रुद्रपुर: 30 जनवरी तक आयोजित होने वाले एमएसएमई पखवाड़े का विधिवत शुभारंभ

2018-01-16 14:45:20.0

रुद्रपुर: 30 जनवरी तक आयोजित होने वाले एमएसएमई पखवाड़े का विधिवत शुभारंभ

रिपोर्ट अंजुम कादरी, [Edit By: रितिका सिंह] ni

रूद्रपुर : सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय भारत सरकार व उत्तराखण्ड सरकार द्वारा आयोजित 30 जनवरी तक आयोजित होने वाले एमएसएमई पखवाड़े का विधिवत शुभारंभ मुख्य विकास अधिकारी आलोक कुमार पाण्डेय द्वारा जिला उद्योग केन्द्र सभागार में किया गया।

उन्होंने कहा कि तकनीकि के दौर में नए-नए रोजगार के साधनों का सृजन हो रहा हैं तथा मालिकों की संख्या में कमी आकर बेरोजगारों की संख्या में वृद्धि हो रही है।
उन्होंने कहा कि युवाओं को नकरी के लिए परेशान नहीं होना चाहिए बल्कि बाजार का अध्ययन करते हुए सकारात्मक सोच, नई ऊर्जा व उमंग के साथ उद्यमिता विकास हेतु सरकार द्वारा स्टार्ट अप सहित चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का लाभ उठाकर स्वयं का कारोबार स्थापित करने पर विशेष ध्यान देना चाहित। उन्होंने कहा कि हमारी सोच नकरी के स्थान पर मालिक बनकर दूसरों को नोकरी देने की होनी चाहिए।
उन्होंने मोबाईल तकनीकी का उदाहरण देते हुए कहा कि किसी भी कार्य की शुरूआत में कुछ कठिनाईया अवश्य आती हैं परन्तु उस तकनीकी की पूरी जानकारी/पे्रक्टिस होने पर उसका बहुत अधिक लाभ मिलता है तथा हमारे जीवन का अभिन्न हिस्स भी बन जाता है। उन्होंने कहा कि वैसे ही जीएसटी नया कर है तथा विभिन्न कारणों/जानकारी के अभाव में कुछ दिक्कतें अवश्य आ रही होंगी। उन्होंने कार्यशाला में आए उद्यमियों/विभिन्न कम्पनियों के प्रतिनिधियों को एमएसएमई योजनान्तर्गत चलने वाले 05 दिवसी जीएसटी कार्यशाला का भरपूर लाभ उठाने को कहा।
एमएसएमई के निदेशक वीके शर्मा ने बताया कि नए उद्योगों की स्थापना के लिए उद्यमियों को अनुकूल वातावरण स्थापित करना, विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभांवित करते हुए उद्योगों का बढ़ावा देना व रोजगार के नये अवसर पैदा करना ही सरकार का मुख्य उद्देश्य है।
प्रशिक्षक सीए अमित अरोरा व हैमन्त सिंघल द्वारा उद्यमियों को जीएसटी रजिस्ट्रेशन, ई-वे बिल, रिटर्न फाईल करना, जीएसटी के लाभ व नियम, बेसिक जानकारी दी तथा उद्यमियों द्वारा पूछे गये सवालों व जिज्ञासाओं का भी समाधान किया गया।
इस अवसर पर महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र चंचल बोहरा, मुनीष त्यागी, प्रवीण कुमार सहित उद्यमी/प्रशिक्षणार्थी आदि उपस्थित थे।

  Similar Posts

Share it
Top