रुड़की : बजट में कटौती से नाराज प्रधानों ने ब्लॉक मुख्यालय पर की तालाबंदी, दिया धरना सरकार की नीतियों के खिलाफ की नारेबाजी

2017-09-02 19:53:35.0

रुड़की : बजट में कटौती से नाराज प्रधानों ने ब्लॉक मुख्यालय पर की तालाबंदी, दिया धरना सरकार की नीतियों के खिलाफ की नारेबाजी

रुड़की : विकास कार्यों के बजट में कटौती किए जाने से नाराज ग्राम प्रधानों ने शुक्रवार को सभी ब्लॉक मुख्यालयों पर तालाबंदी कर दी। प्रधानों ने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार पंचायतों को कमजोर करने की दिशा में काम कर रही है। पंचायतों के बजट में जबरदस्त कटौती की गई। इसकी वजह से विकास कार्य पूरी तरह से ठप हो गया है। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार उनकी मांगे नहीं मान ली जाती, तब तक उनका आंदोलन जारी रहेगा।
शुक्रवार को ग्राम प्रधान नारेबाजी करते हुये रुड़की विकास खंड मुख्यालय पर पहुंच गये। यहां पर उन्होंने ब्लाक मुख्यालय पर तालाबंदी करते हुये सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने आरोप लगाया कि एक तरफ तो पंचायतों को सशक्त करने के दावे किये जा रहे हैं तो दूसरी ओर पंचायतों
को कमजोर किया जा रहा है। पहले सरकार की ओर से 14 वें वित्त के बजट में कटौती की गई। इसके बाद सरकार ने राज्य वित्त के बजट में कटौती की है। इससे विकास कार्य पूरी तरह से प्रभावित हो गये हैं। पंचायतों के पास इस समय इतना भी बजट नहीं है कि वह नाली या सड़क आदि का निर्माण करा सके। उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांगों को नहीं मान लिया जाता, तब तक आंदोलन जारी रहेगा। साथ सरकार को भविष्य में लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव में इसके परिणाम भुगतने होंगे। इस मौके पर इरफान अहमद, राजेन्द्र कुमार, जातिराम, सुधा, तहसीन, सोनिका, मोनिका, इनाम, कमर आलम, अनुराग गिरी, सलीम अहमद, सुमित आदि मौजूद रहे। वहीं नारसन विकास खंड में भी प्रधानों ने नारसन ब्लाक मुख्यालय पर पहुंच तालाबंदी की। इस मौके पर आशीष कुमार, संजय कुमार, कुलदीप सिह, मुनेश त्यागी, अशोक कुमार, मुस्कान आदि मौजूद रहे। प्रधानों ने मानदेय भी 10 हजार रुपये प्रतिमाह किये जाने की मांग की। वही भगवानपुर में भी ग्राम प्रधानों कर ओर तालाबंदी कर अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया ी
ब्यूरो रिपोर्ट
अंजुम कादरी

  Similar Posts

Share it
Top