उत्तराखण्ड: कलम की सुगंध (अर्णव कलश) के सौजन्य से कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ संम्पन्न

2017-06-26 05:38:03.0

उत्तराखण्ड: कलम की सुगंध (अर्णव कलश) के सौजन्य से कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ संम्पन्न

उत्तराखण्ड: कलम की सुगंध (अर्णव कलश) के सौजन्य से कवि सम्मलेन का आयोजन कराय गया जिसकी मुख्य अतिथि अंजुम कादरी रही और अध्यक्षता आशा शैली ने की। संचालन विनोद हसौंडा और सह संचालक शाम्भवी मिश्रा के सानिध्य में हुआ देश के तमाम शहर के कवियों ने अपने रचनाओं के माध्यम से कवि सम्मेलन में चार चांद लगा दिये। कवि आर्यन उपाध्याय ऐरावत जी की कविता" तेरे काँधे पे सिर रख कर जो मेरी शाम हो जाये "को खूब सराहा गया। विजयता सूरी जी ने भी अपनी रचनाओं से सबका दिल जीत लिया। शाम्भवी मिश्रा जी ने अपनी मधुर आवाज से सबको मोहित कर लिया। विनोद हसौडां जी ने भी अपनी हास्य शैली से लोगों को खूब हँसाया। और कवियों ने भी खूब सिरकत किया तथा अंत में सम्मान समारोह से कार्यक्रम समाप्त किया गया इस आशा के साथ की जल्‍द ऐसा सांस्कृत कार्यक्रम पुनः आयोजित किया जायेगा।


ब्यूरो रिपोर्ट

अंजुम कादरी





  Similar Posts

Share it
Top