उदयपुरवाटी उपद्रव : देशद्रोह के 13 आरोपितों को जेल, 3 रिमांड पर, 8 स्पेशल टीमें रख रही कड़ी नजर

2018-01-09 17:47:37.0

उदयपुरवाटी उपद्रव : देशद्रोह के 13 आरोपितों को जेल, 3 रिमांड पर, 8 स्पेशल टीमें रख रही कड़ी नजर

Covered By :अंजुम कादरी, [Edited By : विक्रांत अग्निहोत्री]
उदयपुरवाटी: कस्बे के खेल मैदान में लगे मेले में हुए उपद्रव के तीसरे दिन मंगलवार को भी कस्बे में तनाव बरकरार है। हालांकि पुलिस व प्रशासन की सक्रियता के चलते कस्बे में शांति बनी हुई है। एसडीओ शिवपाल जाट व एएसपी नरेश मीणा, डीएसपी प्रभातीलाल शेरावत पूरी मुस्तैदी कस्बे के चप्पे-चप्पे का मुआयना कर रहे हैं। दूसरी तरफ विभिन्न राजनीतिक व सामाजिक संगठन भी दोनों पक्षों से बातचीत कर समझाइश बनाने में जुटे हुए हैं।
* PAK समर्थित नारे लगने के बाद उदयपुरवाटी में बिगड़े हालात, RAC तैनात, BJP पार्षद समेत कई जनों के खिलाफ देशद्रोह का मामला*

मंगलवार को पुलिस ने जवानों की 8 टीमें बनाकर कस्बे के संवेदनशील स्थानों पर तैनात की हैं। दूसरी तरफ उपद्रव के आरोपितों को न्यायालय में पेश किया गया, जिनमें से 13 आरोपितों को न्यायालय में पेश किया गया, जिनमें से 13 आरोपितों को न्यायालय ने जेल भेजने के आदेश दिए हैं और तीन आरोपितों को पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

*उदयपुरवाटी में धारा 144 लागू, दर्जनों लोगों पर देशद्रोह का आरोप, कल सुबह 10 बजे तक का है ये अल्टीमेटम*

*इनके खिलाफ दर्ज किया मामला*
उदयपुरवाटी निवासी साकिब बारूदगर पार्षद, माहिर खान, जावेद, शाहबा, अकरम, साजू, बाबू मणियार, रहिस खान, खूबा उर्फ रिजवान, कल्लू, शौकत, यूनिस खान, आरिफ, इलियास, शेरखान, रफीक, अकरम पिता इकरमुद्दीन, इमरान, जब्बार पिता सिराज, आसिफ, सब्बीर आदि के खिलाफ देश द्रोह, पत्थरबाजी व जानलेवा हमले के साथ ही आधा दर्जन से अधिक धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है।

यह है पूरा मामला
पुलिस के अनुसार उदयपुरवाटी के खेल मैदान में पिछले करीब एक सप्ताह से हस्तशिल्प मेला लगा हुआ है। मेले के अंतिम दिन रविवार को रात्रि में मेले में एक युवक ने एयरगन से फायर कर दिया। फायर करने वाले युवक को स्थानीय लोग पकड़कर पुलिस थाने ले जा रहे थे। इसी दौरान युवकों ने हमला बोल दिया।

अचानक हुए हमले से अफरा-तफरी मच गई। मामला समझने से पहले ही हमला करने वाले युवकों ने नारों के साथ पुलिस थाने पर पत्थर बाजी भी शुरू कर दी। साथ ही फायर करने वाले युवक को लेकर जा रहे लोगों पर लाठियां भांजने लगे। देखते ही देखते मामला बढ़ गया। अचानक हुए हमले में घायल का बीच-बचाव करने पहुंचे बजरंग दल तहसील संयोजक रोहिताश सैनी भी हमले का शिकार हो गए। हालांकि इस बीच फायरिंग करने वाले युवक को पुलिस के हवाले कर दिया गया।
रिपोर्ट उत्तराखण्ड प्रदेश प्रभारी अंजुम कादरी

  Similar Posts

Share it
Top