कानपुर देहात: राजनीति के चलते नही दर्ज की जा रही पीडित की रिपोर्ट

2017-08-30 13:53:08.0

कानपुर देहात: राजनीति के चलते नही दर्ज की जा रही पीडित की रिपोर्ट

कानपुर देहात : थाना-मूसानगर में राजनीतिक दबदबा के चलते नहीं दर्ज हुई 'FIR' ससुरालीजनों के खिलाफ ,पीड़ित महिला ने जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक को लिखा शिकायती-पत्र ,
उक्त थाना क्षेत्र के ग्राम -सरौता तृतीय में सुनील कुमार पुत्र प्रेम शंकर उर्फ कमल निषाद पुत्र स्वर्गीय मुंशीलाल व सास-भीखी देवी,देवर-राजेश कुमार यशपाल व अनिल कुमार निषाद के खिलाफ पीड़िता रेखा देवी पत्नी सुनील कुमार ,निवासी-सरौतातृतीय,थाना-मूसानगर में इनकी करतूतों एवं अहिंसात्मक व रचनात्मक ढंग से परिवार में कलह पैदा करना व षड्यंत्र पूर्वक जानलेवा दो बार प्रहार तथा बार बार मायके से रुपए मंगवाने की बुरी लालच एवं देवरों द्वारा बुरी नीयति से घरेलू उत्पात मचाना, ससुरालीजनों द्वारा पीड़िता के साथ मनमानी करने मे सफल न होने पर भोजन न देना व पुत्री कु०शशि को अवैद्ध संतान कहकर मारपीट, बाल अपराध करना व बुरी तरह प्रताणित होने से गॉव व मायके पक्ष को अवगत करायें जाने से कई बैठकें हुइ जिसमे हर बार लड़का पक्ष दोषी पाया गाया।दुःखों की शहन शक्ति सीमा से अधिक होने पर थाना-मूसानगर मे दि० 21/06/2017 को तहरीर देने पर 23 दिन बाद 14/07/2017 ससुरालीजनों के आने पर पीड़िता को बुलाया तो दोनों पक्षों में की सुनवाई थानाध्यक्ष ने की तो लड़का पक्ष ही दोषी पाया गया, सम्रॉत व्यक्तियों के कहने पर पुनः गलती ना करने की हिदायत देकर आपसी समझौता करवा दिया गया। पीड़िता अपने पति के साथ ससुराल गई और अलग बने मकान पर निवास तो प्रारंभ हुआ लेकिन खाने-पीने की कुछ व्यवस्था पति व ससुराल पक्ष से ना होने के कारण खाद्य सामग्री अपने मायके से मंगवाया करती। यह सब चीजे ससुराल वालों को रास ना आई और कहां कि तू कितना भी कोशिश कर ले तुझे हम नहीं रखेंगे अपने लड़के की शादी फिर से अच्छे दहेज के साथ से करवाएंगे।जबकि पीड़िता के माता-पिता द्वारा पिछले शादीे सामान के साथ लगभग 52,800/-रुपए का नया घरेलू सामान,22,500/-रुपए नगद,एक चैन ,दो अंगूठी खुशहाल रहने के लिए दिया था। ऊपर से कहा गया कि तू और तेरे मां बाप कितना भी कोशिश व दबाव कर ले,हर बहाने से हम जीते ही रहेंगे कोई कहेगा क्यों नहीं रखते हम कहेंगे रखते तो हैं लेकिन रहना नहीं चाहती और उल्टा बार-बार दोषी होने पर भी बचते रहेंगे,हमारे पास भी पावर है ।
पीड़िता के ऊपर पुनः जानलेवा हमला ससुरालीजनों के मंशा से दि० 15/08/2017 को पति सुनील द्वारा कमरे के मारते हुए शीने के ऊपर बैठकर जान लेने हेतु गला दबाने की पूर्ण कोशिश की तो जान बचाओ हेतु किसी तरह छुटा कर बाहर भागी,और 100न० सहायता पुलिस बल को जानकारी दी!तो पुलिस पहुँचकर सुनील व रेखादेवी को गाड़ी मे बैठाकर थाने पहुंचे ।जिससे लड़के पक्ष से राजनीतिक सह होने के कारण पीड़िता की तरफ से न तो FIR हुई और न ही मेडिकल कराया।आखिर महिला अपने मायके मे इलाज करा रही है। अपने न्यायहित पुलिस अधीक्षक व जिलाधिकारी -कानपुर देहात को साक्ष्य पत्रों के आधार सहित FIR दर्ज करवाने हेतु पत्र भेजा है।ऐसे लोगो के प्रति कड़ी कार्यवाही हेतु गुहार लगाई है।
ब्यूरो रिपोर्ट
स्वाति वर्मा

  Similar Posts

Share it
Top