सितारगंज: सहीदों की सहादत और स्वतंत्र हलचल साप्ताहिक पेपर के 3 वर्ष पूरे होने पर चल रहे कवि सम्मलेन में मौशम ने डाला खलल

2017-06-21 13:40:28.0

सितारगंज: सहीदों की सहादत और स्वतंत्र हलचल साप्ताहिक पेपर के 3 वर्ष पूरे होने पर चल रहे कवि सम्मलेन में मौशम ने डाला खलल

सितारगंज: शहीदों की शहादत पर और स्वतंत्र हलचल साप्ताहिक पेपर के 3 वर्ष पूरे होने कवि सम्मेलन प्रोग्राम चल रहा था मौसम में अचानक से बदलाव आने के कारण प्रोग्राम में आई बाधा तेज हवाओं के साथ झमाझम पानी बरसा प्रोग्राम में आए स्टेट लेवल कवि अपनी सुरीली आवाज में कविताओं को सुनाते हुए माहौल को रंगीन बनाए हुए थे अचानक से तेज हवाओं के साथ बादल बरस पड़े इस तरह मौसम ने ली अंगड़ाई स्वतंत्र हलचल के प्रोग्राम मे गड़बड़ी छाई सारे लोगों पर उदासी छाई पानी की बूंदों ने क्यों ईतनी शोर मचाई पानी ने खूब रफ्तार से बरस ना शुरू किया पेपर चीफ रवि रसतोगी जी ने अच्छा प्रोग्राम का आग़ाज़ किया था लेकिन भारी वर्षा ने कविओं को किया निराश वर्षा होने से दरशकों को अपने अपने घर जाना पड़ा प्रोग्राम रामलीला मैदान मे चल रहा था अब भी कवि अपनी कविताओ को सुना रहे हैं लेकिन बो रंगीन महफिल नही है



ब्यूरो रिपोर्ट
अंजुम कादरी

  Similar Posts

Share it
Top