ब्रेकिंग न्यूज़ फतेहपुर उत्तर प्रदेश ब्यूरो फतेहपुर

2017-01-13 16:18:54.0

ब्रेकिंग न्यूज़ फतेहपुर उत्तर प्रदेश ब्यूरो फतेहपुर

फतेहपुर
======

हरियाली उजड़ने के बाद खूथ भी नहीं ढूंढ सके जिम्मेदार
◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆

खागा/फतेहपुर- तहसील क्षेत्र के पाई गांव में बीते कई दिनों से जारी अवैध हरे पेड़ों की कटान रोंकने की बजाए जिम्मेदार अधिकारी आंखें बंद किए हुए हैं | शिकायत के बाद मौके पर पहुंचे वन विभाग के कर्मचारी ठूंठ तक नहीं खोज सके।
पाई गांव के जंगल में बीते एक सप्ताह से हरे पेड़ों पर सूरज निकलते ही कुल्हाड़े चटकने शुरु हो जाते थे । सूत्रों का कहना है विगत एक सप्ताह से प्रत्येक दिन एक ट्राली हरी नीम, चिल्ला की लकड़ी लादकर खागा, विजयीपुर व अन्य जगहों की आरा मशीनों में भेजी जाती है । गांव से पश्चिम स्थित भीटा में चल रही अवैध कटान के बारे में ग्रामीणों ने इलाकाई थाना पुलिस तथा वन विभाग के अधिकारियों को मोबाइल के जरिए सूचना दी । ग्रामीणों का आरोप है कि जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही से दर्जनों पेड़ काटे जा चुके हैं । शिकायत के बाद गांव पहुंचे वन कर्मियों ने मौके पर जाकर काटे गए पेड़ के ठूंठ देखे । इसके बावजूद उन्होने कोई कार्यवाही हरियाली उजाड़ऩे वालों के खिलाफ मुनासिब समझी है । खखरेडू वन क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार का कहना था सूचना के बाद टीम मौके पर भेजी गई थी । टीम ने वापस लौटकर कटान में प्रतिबंधित पेड़ काटने की जानकारी नहीं दी है ।

=====================


लापता अधेड़ का तीसरे दिन भी नहीं चला सुराग परिजन बेहाल

खागा/फतेहपुर-नगर के नौबस्ता बाईपास निवासी अधेड़ का तीसरे दिन भी कोई सुराग नहीं लग सका। जिससे लापता अधेड़ के परिजनों के हाल बेहाल हैं |
जानकारी के अनुसार रघुरायी सिंह (50) बीते बुधवार शाम सब्जी लेने के लिए खागा बाजार की बात कहकर घर से निकला था | बाइक लेकर घर से निकले उक्त अधेड़ के बारे में तीसरे दिन भी कोई सही सुराग न मिलने से परिजन बेहाल हैं | पिता के रहस्यमय ढंग से गायब होने की तहरीर कोतवाली पुलिस को पुत्र राजू सिंह ने शुक्रवार को दी थी | जिसमें कोतवाली पुलिस ने उक्त अधेड़ की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की है | लापता अधेड़ के पुत्र व परिजनो ने कोतवाली पुलिस से जल्द पता लगाने की गुहार लगाई है | सीओ अतुल कुमार चौबे ने बताया कि लापता अधेड़ के मोबाइल नंबर की सीडीआर मंगाकर जांच की जाएगी | जल्द ही मामले में सफलता हासिल करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं |

रितिका सिंह
बिंदकी तहसील संवाददाता

  Similar Posts

Share it
Top