एसपी के इस निर्देश का गलत फायदा ले रहे लोग।

2016-07-19 15:48:05.0

एसपी के इस निर्देश का गलत फायदा ले रहे लोग।

जौनपुर,ब्यूरो एसपी के इस निर्देश का गलत फायदा ले रहे मातहत जौनपुर। पुलिस अधीक्षक ने गत दिनों फरमान जारी किया था कि पब्लिक प्लेस पर ड्रिंक करने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई की जाय। साहब का फरमान आते ही सभी मातहत हरकत में आ गये और अभियान में जुट गये। जगह—जगह अभियान चलाकर ऐसे लोगों के​ खिलाफ तो कार्रवाई की ही जा रही है लेकिन कुछ मातहत इसका गलत फायदा उठा रहे है। इस निर्देश के नाम पर वह लोगों को बेवजह प्रताड़ित कर रहे है। मामला केराकत कोतवाली क्षेत्र का है। कुछ लोगों का कहना है कि पुलिस पब्लिक प्लेस पर ड्रिंक करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के नाम पर जो लोगों शराब खरीद रहे है या उसे घर ले जाने की सोच रहे है तो वह भी उठा लिये जा रहे है। गौरतलब हो कि एसपी साहब ने गत दिनों मातहतों को यह निर्देश दिया कि सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने वालों के खिलाफ कार्रवाई करें ताकि इससे होने वाले छिटपुट घटनाओं पर लगाम लग सके। कुछ मातहत तो इसका निर्वहन जिम्मेदारी से कर रहे है लेकिन कुछ लोग इसे वसूली का एक जरिया भी बना लिये है। हुआ यूं कि केराकत कोतवाली क्षेत्र में इस अभियान के नाम पर सही लोगों को भी प्रताड़ित किया जाने लगा। जो घर ले जाने की मंशा से शराब खरीद रहा है उसे भी परेशान किया जा रहा है और जो ​विंडों पर है उसे भी प्रताड़ित किया जा रहा है। मजे की बात तो यह है कि जो कुछ देने वाला दिखाई देता है तो उसे ले—देकर रफा दफा कर दिया जाता है और जो कुछ ले दे नहीं सकता उसे रात में निजी मुचलके पर छोड़ा जा रहा है। इस तरह की कार्रवाई से लोग अपने आप को ठगा महसूस कर रहे है। कुछ तो यह भी अलापने लगे कि जब ऐसा ही है तो शराब ही बंद करवा देनी चाहिए। फिलहाल एसपी के निर्देश की सराहना तो हो ही रही है लेकिन कुछ मातहतों द्वारा इस तरह के कृत्य से लोग परेशान भी है। जौनपुर। पुलिस अधीक्षक ने गत दिनों फरमान जारी किया था कि पब्लिक प्लेस पर ड्रिंक करने वालों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई की जाय। साहब का फरमान आते ही सभी मातहत हरकत में आ गये और अभियान में जुट गये। जगह—जगह अभियान चलाकर ऐसे लोगों के​ खिलाफ तो कार्रवाई की ही जा रही है लेकिन कुछ मातहत इसका गलत फायदा उठा रहे है। इस निर्देश के नाम पर वह लोगों को बेवजह प्रताड़ित कर रहे है। मामला केराकत कोतवाली क्षेत्र का है। कुछ लोगों का कहना है कि पुलिस पब्लिक प्लेस पर ड्रिंक करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के नाम पर जो लोगों शराब खरीद रहे है या उसे घर ले जाने की सोच रहे है तो वह भी उठा लिये जा रहे है। गौरतलब हो कि एसपी साहब ने गत दिनों मातहतों को यह निर्देश दिया कि सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने वालों के खिलाफ कार्रवाई करें ताकि इससे होने वाले छिटपुट घटनाओं पर लगाम लग सके। कुछ मातहत तो इसका निर्वहन जिम्मेदारी से कर रहे है लेकिन कुछ लोग इसे वसूली का एक जरिया भी बना लिये है। हुआ यूं कि केराकत कोतवाली क्षेत्र में इस अभियान के नाम पर सही लोगों को भी प्रताड़ित किया जाने लगा। जो घर ले जाने की मंशा से शराब खरीद रहा है उसे भी परेशान किया जा रहा है और जो ​विंडों पर है उसे भी प्रताड़ित किया जा रहा है। मजे की बात तो यह है कि जो कुछ देने वाला दिखाई देता है तो उसे ले—देकर रफा दफा कर दिया जाता है और जो कुछ ले दे नहीं सकता उसे रात में निजी मुचलके पर छोड़ा जा रहा है। इस तरह की कार्रवाई से लोग अपने आप को ठगा महसूस कर रहे है। कुछ तो यह भी अलापने लगे कि जब ऐसा ही है तो शराब ही बंद करवा देनी चाहिए। फिलहाल एसपी के निर्देश की सराहना तो हो ही रही है लेकिन कुछ मातहतों द्वारा इस तरह के कृत्य से लोग परेशान भी है।

  Similar Posts

Share it
Top